Gk In Hindi

14 December Current Affairs 2019

Whatsapp Share Twitter Share Pinterest Share
Published: December 14, 2019

14 december current affairs 2019

आज के सबसे महत्वपूर्ण करंट अफेयर्स को 14 दिसंबर, 2019 को हिंदी के सबसे महत्वपूर्ण करंट अफेयर्स में शामिल किया गया है, जिसमें मुख्य रूप से आंध्र प्रदेश के संविधान और सरकार के संशोधन कानून आदि शामिल हैं।

संसद से SC-ST आरक्षण से जुड़ा बिल पास, जाने इस बिल के बारे में

राज्यसभा से हाल ही में संविधान संशोधन (126वां) बिल भी पास हो गया है. ये बिल लोकसभा से पहले ही पास हो चुका है. इस विधेयक में लोकसभा और राज्य विधानसभाओं में अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति समुदायों के आरक्षण को दस साल बढ़ाने का प्रावधान है.

फिलहाल आरक्षण बिल 25 जनवरी 2020 को समाप्त हो रहा है. इसे बिल में 25 जनवरी 2030 तक बढ़ाने का प्रावधान है. संसद में एंग्लो इंडियन कोटे के तहत दो सीटों को भी खत्म करने का बिल में प्रावधान है. 70 साल से इस समुदाय के दो सदस्य सदन में प्रतिनिधित्व करते आ रहे हैं.

आंध्र प्रदेश सरकार का बड़ा फैसला: दुष्कर्म मामले की 21 दिनों में होगी सुनवाई

आंध्र प्रदेश सरकार ने हाल ही में राज्य में दुष्कर्म मामलों में 21 दिनों के भीतर सुनवाई करने का फैसला किया है. कैबिनेट ने मसौदा विधेयक पारित कर दिया है. हाल ही में हैदराबाद में हुए डाक्टर के सामूहिक दुष्कर्म मामले के बाद आंध्र प्रदेश सरकार ने ये बड़ा फैसला किया है.

राज्य सरकार ने एक बयान में कहा कि यह कानून, आंध्र प्रदेश अपराध कानून में एक संशोधन होगा जिसे 'आंध्र प्रदेश दिशा कानून' नाम दिया गया है. इस कानून के तहत, सभी जिलों में विशेष अदालतें गठित की जाएंगी.

 नागरिकता (संशोधन) विधेयक क्या है, जिसे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी मंजूरी 

राष्‍ट्रपति कोविंद के हस्‍ताक्षर के साथ ही नागरिकता संशोधन विधेयक- 2019 कानून बन गया है. संसद से 11 दिसंबर 2019 को नागरिकता संशोधन विधेयक (CAB) पास हो गया था. इस विधेयक के विरुद्ध असम सहित पूर्वोत्तर के कई राज्यों में प्रदर्शन हो रहा है.

भारतीय नागरिकता लेने हेतु अभी ग्यारह साल भारत में रहना अनिवार्य है. नए विधेयक में प्रावधान है कि पड़ोसी देशों के अल्पसंख्यक यदि पांच साल से भी भारत में रहे हों तो उन्हें नागरिकता दी जा सकती है.

इंद्र-2019: भारत और रूस के बीच संयुक्त सैन्य अभ्यास शुरू

इस संयुक्त युद्धाभ्यास का मुख्य उद्देश्य आतंक के खिलाफ प्रहार करना है. भारत एवं रूस की सेना ने ग्लोबल आतंकी खतरों से निपटने हेतु संयुक्त युद्धाभ्यास की शुरुआत की है. यह युद्धाभ्यास दस दिनों तक चलेगा. इस युद्धाभ्यास में सेना की टुकड़ियां, ट्रान्सपोर्ट एयरक्राफ्ट और नौसेना के जहाज आदि शामिल हैं.

इस संयुक्त सैन्य अभ्यास में थल सेना की ट्रेनिंग बबीना में हो रही है. नेवी का कार्यक्रम गोवा में और एयरफोर्स का पुणे में युद्धअभ्यास हो रहा है. इस युद्धाभ्यास में दोनों देशों के लगभग 1200 जवानों के साथ टैंक्स, एयरक्राफ्ट, जहाज, हैलीकॉप्टर आदि शामिल हैं.

Tags : 14 December Current Affairs,current Affairs 14 December,current Affairs In Hindi,current Affairs In India,current Affairs 2019,current Affairs In Hindi,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *