TheGk

Sindhu Nadi Geography In Hindi – GK In Hindi

Whatsapp Share Twitter Share Pinterest Share
Published: December 17, 2019

Sindhu Nadi :

सिंधु नदी की लंबाई (किमी) 2,880 (709)
मानसरोवर झील (तिब्बत) के पास उत्पत्ति का स्थान
सहायक नदियाँ सतलज, ब्यास, झेलम, चिनाब, रवि, शिंगार, गिलगित, श्योक
प्रवाह क्षेत्र (संबंधित राज्य) जम्मू और कश्मीर, लेह

सिंधु नदी दुनिया की प्रमुख नदियों में से एक है। तिब्बत में मानसरोवर के पास सिन-का-बाब नामक नदी सिंधु नदी की उत्पत्ति का बिंदु है। इस नदी की लंबाई आमतौर पर 3,200 किमी है। यहां से यह नदी तिब्बत और कश्मीर के बीच बहती है। यह नंगा पर्वत के उत्तरी भाग को पार करती है, दक्षिण पश्चिम में पाकिस्तान से होकर गुजरती है और फिर अरब सागर में मिल जाता है।

सिंधु नदी का इतिहास – Sindhu Nadi In Hindi

वैदिक संस्कृति में, सिंधु नदी और मानसरोवर का उल्लेख बड़ी श्रद्धा के साथ किया गया है। तिब्बत, भारत और पाकिस्तान से होकर बहने वाली इस नदी में काबुल, स्वात, झेलम, चिनाब, रावी और सतलज नदी सहित कई अन्य नदियाँ हैं। हिमालय  से गुजरते हुए, कश्मीर और गिलगिट से होते हुए, यह पाकिस्तान में प्रवेश करती है और मैदानों से होकर बहती है, 1610 किलोमीटर की यात्रा करके कराची के दक्षिण में अरब सागर से मिलता है। इस नदी ने पूर्व में कई बार अपना मार्ग बदला है। 1245 ई. तक यह मुल्तान के पश्चिमी क्षेत्र में बहा करती थी | मुल्तान में चिनाब के किनारे, श्री कृष्ण के पुत्र साम्बरा की याद में सूर्य का एक मंदिर बनाया गया है। इसका वर्णन महाभारत में भी है। इस मंदिर का आकार कोणार्क सूर्य मंदिर जैसा है। सिंधु भारत से होकर बहती है, जो पाकिस्तान के साथ 120 किलोमीटर लंबी सीमा को कवर करती है और सुलेमान के पास पाक सीमा में प्रवेश करती है। भारत में भी, इसके जल के माध्यम से बहुत सिंचाई होती है।

Tags : Sindhu Nadi : : Sindhu Nadi Ki Sahayak Nadi, Sindhu Nadi History In Hindi, Sindhu Nadi History, Geography Basic Geography

Geography Basic Geography Sindhu Nadi Sindhu Nadi : : Sindhu Nadi Ki Sahayak Nadi Sindhu Nadi History Sindhu Nadi History In Hindi Sindhu Nadi Ki Sahayak Nadi